उज्जैन में क्षिप्रा नदी उफान पर

देश के विभिन्न हिस्सों में बाढ़ से हाहाकार मची हुई हैजहां देखो लोगों पर इसका कहर बरस रहा है। केरल, बिहार, महाराष्ट्र में तो ये अपने पूरे चरम पर है। अब इस बाढ़ के सैलाब में उज्जैन का नाम भी शामिल हो चुका है। जहां बाढ़ के पानी का स्तर इतना बढ़ गया है कि यहां के सभी प्राचीन मंदिर जलमग्न हो गए हैं। इनमें उज्जैन का प्रमुख ज्योर्तिलिंग महाकाल मंदिर का भी नाम सामने आ रहा है। बताया जा रहा है इस समय में देश का ये तीसरा ज्योर्तिलिंग बाढ़ की चपेट में आ गया है। जिसकी कुछ ऐसी तस्वीरें सामनी आई है जिसे देखकर किसी का भी दिल बैठ जाए।                             इससे जुड़ी मिली जानकारी के अनुसार उज्जैन में क्षिप्रा नदी उफान पर है। इस मौसम की रिकार्ड बारिश से यहां पानी से जल-थल मची हुई है। शहर की सड़कें तालाब बन चुकी है बाढ़ के चलते यहां के लोगों को तो मुश्किलों का सामना करना ही पड़ रहा है, मगर वहीं सावन में दूर-दूर से आने वाले भक्तों में महाकाल के दर्शन न कर पाने से उदासी छाई हुई है।                                                         आपकी जानकारी के लिए बता दें उज्जैन में स्थित तृतीय ज्योतिर्लिंग महाकाल व 'महाकालेश्वर' के नाम से प्रसिद्ध मंदिर को प्राचीन साहित्य में अवन्तिका पुरी के नाम से भी जाना जाता है। यहां भगवान महाकालेश्वर का भव्य ज्योतिर्लिंग विद्यमान है|


Popular posts
MPEB के सीनियर ऑफिसर प्रदीप मिश्रा व अन्य साथी के साथ कालिंदी गोल्ड सिटी मैं मारपीट की घटना हुई घटना की रिपोर्ट बाणगंगा थाने में दर्ज कराई गई
Image
मां मातंगी महाविद्या साधना एवं कवच ,जप अघोरी भैरव गौरव गुरुजी मां कामाख्या धाम के आदेश एवं मार्गदर्शन में ही करें आदेश आदेश
Image
भारत देश प्रशंसा श्री विष्णु पुराण
Image
संस्था मानवता की पहचान द्वारा रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया
Image
रावेर खेड़ी स्थित श्रीमंत बाजीराव पेशवा प्रथम की समाधि का होगा जीर्णोद्धार बनेगा एक भव्य स्मारक।