पाकिस्तानी कमांडो सूबेदार अहमद खान को भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा के पास मार गिराया

नई दिल्ली : भारतीय वायुसेना ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान को करारा जवाब देते हुए बालाकोट में एयर स्ट्राइक की थी. सेना की इस कार्रवाई में सीमा पार से चल रहे कई आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया गया था. इसके एक्शन के अगले ही दिन पाकिस्तानी सुरक्षाबलों ने अभिनंदन को उस वक्त पकड़ा था, जब उनका मिग 21 विमान पाकिस्तानी विमान का पीछा करते समय क्रैश हो गया था.


भारतीय वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को पकड़ने वाले पाकिस्तानी कमांडो को सुरक्षाबलों ने सीमा पर ढेर कर दिया है. नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर भारतीय सुरक्षाबलों की गोलीबारी में सूबेदार अहमद खान मारा गया. इसी साल फरवरी में वायुसेना के पायलट अभिनंदन का विमान पाकिस्तान में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसके बाद उन्हें वहां पकड़ लिया गया था.


सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तानी सेना के स्पेशल सर्विस ग्रुप के एक सूबेदार अहमद खान को भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा के नकियाल सेक्टर में 17 अगस्त को उस वक्त मार गिराया, जब वह भारत में घुसपैठियों की एंट्री कराने की कोशिशें कर रहा था. पाकिस्तान ने जब 27 फरवरी को अभिनंदन के पकड़े जाने की तस्वीरों जारी कीं तब उसमें दाढ़ीवाले सैनिक अहमद खान को भारतीय पायलट के पीछे खड़ा देखा जा सकता है.


ऐसी जानकारी है कि अहमद खान नौशेरा, सुंदरबनी और पल्लन वाला सेक्टरों में घुसपैठ करवाता था. जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों को भारतीय सीमा में प्रवेश कराकर खान और उसके साथी कश्मीर में आतंकी वारदातों को अंजान देने की फिराक में रहते थे.


जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटने के बाद पाकिस्तान लगातार सीज फायर का उल्लंघन कर रहा है जिसका माकूल जवाब भारतीय सुरक्षाबलों की ओर से दिया जा रहा है. इस जवाबी कार्रवाई और घुसपैठ को रोकने के प्रयास में जवानों ने बड़ी सफलता हासिल की है.


 


Popular posts
MPEB के सीनियर ऑफिसर प्रदीप मिश्रा व अन्य साथी के साथ कालिंदी गोल्ड सिटी मैं मारपीट की घटना हुई घटना की रिपोर्ट बाणगंगा थाने में दर्ज कराई गई
Image
मां मातंगी महाविद्या साधना एवं कवच ,जप अघोरी भैरव गौरव गुरुजी मां कामाख्या धाम के आदेश एवं मार्गदर्शन में ही करें आदेश आदेश
Image
भारत देश प्रशंसा श्री विष्णु पुराण
Image
संस्था मानवता की पहचान द्वारा रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया
Image
रावेर खेड़ी स्थित श्रीमंत बाजीराव पेशवा प्रथम की समाधि का होगा जीर्णोद्धार बनेगा एक भव्य स्मारक।