केंद्र सरकार का बड़ा फैसला बैंकों के आपस में विलय का किया ऐलान, अब सरकारी बैंक रह जाएंगे

सरकार ने कई बैंकों के आपस में विलय का किया ऐलान, अब देश में सिर्फ 12 सरकारी बैंक रह जाएंगे  isitharaman केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लेते हए कई बैंकों के आपस में विलय का ऐलान किया है.    नई दिल्ली:   नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए कई बैंकों के आपस में विलय का ऐलान किया है. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने कहा कि यूनाइटेड बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और पंजाब नेशनल बैंक (PNB, OBC and United Bank) का विलय होगा. दूसरी तरफ केनरा बैंक और सिंडिकेट बैंक का भी आपस में विलय किया जाएगा इसी तरह यूनियन बैंक आधा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक का भी विलय किया जाएगा इंडियन बैंक और • इलाहाबाद बैंक का भी आपस में विलय होगा. केंद्र सरकार के  इस बड़े ऐलान के साथ ही अब देश में सरकारी बैंकों की संख्या घटकर 12 रह जाएगी वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार ने जो फैसले लिए थे उन पर अमल की शुरुआत हो गई है. बैंक और NBFC के 4 टाइअप हए.           देश को गिने-चुने, बड़े आकार के बैंकों की जरूरत : अरुण जेटली                                               वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने कहा कि एनबीएफसी कंपनियों के लिए आंशिक ऋण गारंटी योजना लागू 3,300 करोड़ रुपये का पूंजी समर्थन दिया गया है और 30 000 करोड़ रुपये देने की तैयारी है बैंकों के वाणिज्यिक फैसलों में सरकार का कोई दखल नहीं है नीरव मोदी जैसी धोखाधडी रोकने के लिये स्विफ्ट संदेशों को कोर बैंकिंग प्रणाली से जोड़ा गया है. उन्होंने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का कुल फसा कर्ज (एनपीए) दिसंबर 2018 के अंत में 865 लाख करोड़ रुपये से घटकर 79 लाख करोड़ रुपये रह गया है. सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में सुधार से लाभ दिखने लगा है क्योंकि 2019-20 की पहली तिमाही में उनमें 14 बैंकों ने मुनाफा दर्ज किया है.                                                           बैंक आफ बड़ौदा, देना और विजया बैंक के दिलय को मंजुरी                                            वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmalasitharaman) ने बैंकों में जये विलय की बात करते हुए कहा कि बड़े बैंकों से कर्ज देने की क्षमता बढ़ती है पंजाब नेशनल बैंक ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक के विलय से ये देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक बनेगा पीएनबी. ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक के विलय से बनने वाले बैंक के पास 1795 लाख करोड़ रुपये का कारोबार होगा और उसकी 11.437 शाखाएं होंगी वित्त मंत्री ने कहा कि कैनरा बैंक और सिंडीकेट बैंक का विलय होगा और इससे 15.20 लाख करोड रुपये के कारोबार के साथ यह चौथा सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक बनेगा                                                                             तीन बैंकों से मिलकर बनने वाला नया बैंक अगले साल होगा शुरू                                     वहीं, यूनियन बैंक, आधा बैंक, कॉर्पोरेशन बैंक के विलय से यह देश का 5वां बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक बनेगा. इसका कुल कारोबार 14.59 लाख करोड़ रुपये का होगा. जबकि दूसरी तरफ इंडियन बैंक और इलाहाबाद बैंक के विलय से 8.08 लाख करोड़ रुपये के कारोबार के साथ यह सार्वजनिक क्षेत्र का 7वा बड़ा बैंक बन जाएगा.                                                        इन बैंकों का हो रहा है विलय                                 इन बैंकों का हो रहा है विलय विलय नंबर-1 PNB+ ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स यूनाइटेड बैंक विलय नंबर-2 केनरा बैंक सिंडिकेट बैंक विलय नंबर-3 यूनियन बैंक+आधाबैंक कॉरपोरेशन बैंक विलय नंबर-4 इंडियन बैंक इलाहाबाद बैंक


Popular posts
मां मातंगी महाविद्या साधना एवं कवच ,जप अघोरी भैरव गौरव गुरुजी मां कामाख्या धाम के आदेश एवं मार्गदर्शन में ही करें आदेश आदेश
Image
रुद्राक्ष धारण करने वाले के सारे कष्ट दूर हो जाते हैं आइये जानते हैं रुद्राक्ष कितने प्रकार के होते हैं
Image
जन्माष्टमी पर स्वयंसेवकों ने किया बंसी वादन
Image
रावेर खेड़ी स्थित श्रीमंत बाजीराव पेशवा प्रथम की समाधि का होगा जीर्णोद्धार बनेगा एक भव्य स्मारक।
MPEB के सीनियर ऑफिसर प्रदीप मिश्रा व अन्य साथी के साथ कालिंदी गोल्ड सिटी मैं मारपीट की घटना हुई घटना की रिपोर्ट बाणगंगा थाने में दर्ज कराई गई
Image